गुजरात में उतर भारतीयों की मदद के लिए आगे आए हार्दिक पटेल, जारी किया हेल्पलाइन नंबर
October 9, 2018
मदद से अधिक हाल-चाल पुछने वाले कॉल से तंग होकर चार दिनों में ही बंद हुआ हार्दिक का हेल्पलाइन नंबर
October 13, 2018

ग्रामीण क्षेत्र में आधुनिक लाइब्रेरी के संचालन का परमार्थ कर रही है जन विकास क्रांति

जगदीशपुर एनएच-30 मोड़ से पीरो की तरफ जाने वाली सड़क के किनारे स्थित जन विकास क्रांति संस्था के वाई-फाई युक्त कैम्पस के एक कमरे में दस स्मार्ट डेस्क, लैपटॉप और किताबों से भरे हुए रैक वाली लाइब्रेरी को देख कर आपके जेहन में कहीं से भी यह तस्वीर नहीं उभरेगी कि इसका संचालन किसी सामाजिक दायित्व के तहत हो रहा है. लेकिन जन विकास क्रांति संस्था के महासचिव हिमराज सिंह बताते है कि सब कुछ लाभ के लिए ही नहीं किया जाना चाहिए. कुछ परमार्थ के कार्य भी आवश्यक है.  श्री सिंह बताते है कि कौशल विकास केंद्र में पढ़ाई करने वाले छात्रों की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए यह आइडिया आया कि क्यों नहीं कुछ उत्कृष्ट किया जाए. तभी से ठान लिया कि लीक से अलग हट कर करते है.

इसके बाद उन्होंने जन विकास क्रांति के अंतर्गत ही लाइब्रेरी खोलने का निश्चय किया. उन्होंने कौशल विकास केंद्र कैम्पस के एक कमरे में फर्निशिंग और डेकोरेशन का काम कार्पोरेट ऑफिस की तर्ज पर पूरा कराया. छात्रों को इंटरनेट के माध्यम से भी जानकारी मिल सके इसके लिए लैपटॉप की व्यवस्था की. किताबों की संग्रह के लिए कम्पीटीशन की तैयारी के पूर्व छात्रों और पुस्तकालय संचालन की बड़ी संस्थाओं से संपर्क स्थापित किया और कुछ किताबें निजी पैसों से ख़रीदा. संस्था के महासचिव हिमराज सिंह बताते है कि पूर्व आइपीएस जोगिंदर सिंह से लेकर मुंशी प्रेमचंद और कुंवर नारायण जैसे साहित्यकारों की किताबों की लगभग आठ सौ  पुस्तकों का संग्रह हो चुका है. प्रतिदिन बीपीएससी और रेलवे प्रतियोगिता की तैयारी करने के लिए दर्जनों छात्र निःशुल्क अध्ययन कर रहे है.

भोजपुर जिले के जगदीशपुर जैसे इलाके में इस प्रकार के व्यवस्थित लाइब्रेरी का संचालन काबिलेतारीफ़ है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *